How To Overcome Laziness

HOW TO OVERCOME LAZINESS !



CAUSES-
As we all know, our everyday life is full of running, we have no time for ourselves, so laziness is obvious. Now the problem is how to overcome it. Laziness is caused by our mistakes.
Sleeping late at night. Waking up late in the morning. Do not eat food on time.
Mental weakness is the biggest root of laziness.
Mental weakness is caused by certain habits.
Useless work that has no importance in the future. Make him mobile for a long time. You can apply eye protector in mobile, which will reduce the impact of blue rays on your eyes to some extent.
 Eating more unhealthy food than anything.
Do not practice getting up in the morning. .



ACTIVE IN EVERYWHERE

SOINLUTIONS to overcome laziness and keep the mind calm!
Wake up early in the morning and do some exercise a little. Anyone can read biography. Right now audio books are also available, you can listen to it, if you do meditation, then drink as much water as our brain is made up of 71% water.!
In the morning the body's metabolism is low, for this, one can eat banana.
And definitely give yourself 20 mintuis who spend time alone with themselves. Give yourself importance because no one in this world like you. Whatever you are running for the whole day, what are you doing for yourself, then why do you spend some time with yourself? And a few minutes spent with you will change your habit of thinking. ...
It is very important to stay in discipline, these habits will change your future prospects.

FEEL FULL HAPPINESS


All were able to remain active in childhood because they were stress free and wanted to play. Never used to get tired. Because games were our choice. We are still playing the game, the only difference is that those games are not to our liking and are being played forcefully.

It takes all your life to find your happiness. If we can still be possible, we can all remain stress free. Change your wrong habits and do the work of your choice in which you have a passion which you do continuously for 24 hours, but there is happiness and desire on your face. Will be happy

 BY- (Shubham Kumar Singh).

. If you have got anything to learn in this post then please tell.
. Stay blessed and stay inspired .. be happy.
. Nothing is impossible in the world. Be patient.
. I hope one day your dreams come true.


हिंदी में !

कारण-


जैसा की हम सब जानते हैं हमारी रोजमर्रा की जिंदगी भाग दौड़ से भरी हैं हमे अपने आप के लिए भी टाइम नहीं तो आलस्य का आना जाहिर सी बात है। अब  प्रॉब्लम ये आती है की इसको दूर कैसे करे। आलस्य  हमारी गलतियों के कारण होती हैं।  
रात को देर से सोना।  सुबह देर से उठना।  खाने को टाइम से नहीं खाना। 
मानसिक कमजोरी आलस्य की सबसे बड़ी जड़ हैं। 
मानसिक कमजोरी कुछ आदतों के कारण होती है। 
बेकार काम जिसका भविस्य में कोई महत्ब नहीं । ज्यादा देर तक मोबाइल का उसे करना। मोबाइल में आँख  प्रोटेटर लगा सकते है जिससे कुछ हद तक आपकी आँखों पे नीली रेज़ का असर कम  पड़ेगा। 
कुछ भी अस्वास्थ्यकर भोजन ज्यादा खाना।  
सुबह उठ के अभ्यास  न करना। . 
आलस्य को दूर करने के और दिमाग को शांत रखने के लिए !



हर जगह सक्रिय-


उपाय_ सुबह जल्दी उठे और कुछ थोड़ी बहुत एक्सरसाइज जरूर करें  कोई भी बायोग्राफी  पढ़ सकते हैं।  अभी तो ऑडियो  बुक भी उपलब्ध हैं उसको सुन सकते है, मैडिटेशन करे हो सके तो ज्यादा से ज्यादा पानी पियें क्यूंकि हमारा ब्रेन 71% पानी से ही बना है। 
सुबह बॉडी का चयापचय कम होता है इसके लिए केला खा सकते है।  
और अपने आप को  अपने २० मिन्तुइस जरूर दे जो अपने साथ अकेले बिताएं अपने आप को एहमियत दे क्यूंकि आपके जैसा इस दुनिया में कोई नहीं।  जो आप दिन भर भाग दौड़ करे रहते हैं वो किसके लिए कर रहे अपने आप के लिए ही तोह कर रहे फिर क्यों अपना कुछ  समय अपने साथ बिताएं।  और  अपने साथ बिताये कुछ मिनट्स ही आपकी आदत को सोच को बदल देंगे। ...
अनुशासन में रहना बहुत ही ज्यादा  जरूरी है  यही आदतें आपका आने वाला भबिष्य बदल देंगी।

 खुशी का अनुभव करें-

सभी बचपन में सक्रिय रह पाते थे क्यों की सब स्ट्रेस फ्री थे खेलने की चाह थी. कभी थकते नहीं थे. क्यूंकि खेल हमारी पसंद के होते थे।  अभी भी हम खेल ही खेल रहे हैं फर्क बस इतना है की वे खेल हमारी  पसंद के नहीं हैं  और जबरदस्ती खेले जा रहे हैं।   

अपनी खुशिओं को ढूढ़ने में सारी ज़िंदगी लग जाती है.  चाहे तो अभी भी संभव हो सकता है हम सब स्ट्रेस फ्री रह सकते है।  कुछ गलत आदतों को बदल के अपनी पसंद का काम करो जिसमे आपकी लगन हो जो आप 24hr लगातार करो लेकिन चेहरे पे खुशी और चाह हो। खुश रहेंगे।  ..




 BY- (शुभम कुमार सिंह ). 

इस पोस्ट में कुछ भी सीखने को मिला हो तो जरूर बताएं !

धन्य बने रहें और प्रेरित रहें .. खुश रहें
दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है. धैर्य रखें

 आशा करता हूँ एक दिन आपके सपने जरूर पूरे होंगे 
(🔥🔥धन्यवाद)!


Visit Again..Like  & Share This.......

Post a Comment

0 Comments